Skip to content
Email: info@maplepress.co.in | Mobile: +91 9717835777, +91 (120) 4553583
Email: info@maplepress.co.in | Mobile: +91 9717835777, +91 (120) 4553583

पंचतत्रा - 3

Sale Sale
Original price ₹ 95.00
Original price ₹ 95.00 - Original price ₹ 95.00
Original price ₹ 95.00
Current price ₹ 85.00
₹ 85.00 - ₹ 85.00
Current price ₹ 85.00
SKU MP1325

आचार्य विष्णुशर्मा ने तीन राजपुत्रों को कथा के माध्यम से राजनीति, धर्मनीति एवं व्यवहारनीति का ज्ञान दिया था। उन्हीं कथाओं का संग्रह ‘पंचतंत्र’ के पाँच भागों में है। ‘मित्रलाभ’ उसका एक विशिष्ट भाग है। पशु-पक्षियों को पात्र बनाकर, बड़े ही रोचक ढंग से कथाओं की लड़ियाँ पिरोई गई हैं जो परस्पर जुड़ी प्रतीत होती हैं। पाठकों को यह संदेश देती हैं कि मित्रता और सहयोग से कठिनाइयों को जीता जा सकता है। ये कथाएं बाल-मन पर अमिट छाप भी छोड़ती हैं। कथाओं को रुचिकर और प्रभावी बनाने के लिए आकर्षक चित्रों के साथ सरल भाषा में प्रस्तुत किया गया है।

Age Group: 5-7 Years, 7-11 years

Language: Hindi

Number Of Pages: 72